गोरखपुर को सावन में सौगात, सीएम योगी करेंगे मानसरोवर शिव मंदिर का लोकार्पण


हाइलाइट्स

14 जुलाई को मानसरोवर शिव मंदिर का लोकार्पण करेंगे सीएम योगी.
ऐतिहासिक मंदिर जीर्णोद्धार में लगाए गए हैं छह करोड़ रुपये.

गोरखपुर. सीएम योगी का उत्तर प्रदेश में गोरखपुर से खास लगाव है. यहां होने वाले कार्यों पर उनकी खास नजर रहती है. पिछले कुछ समय से यहां स्थित मानसरोवर शिव मंदिर के जीर्णोद्धार का काम चल रहा है. इसके अलावा रामलीला मैदान अंधियारी बाग का भी सौंदर्यीकरण किया गया है. इन दोनों स्थलों पर हुए जीर्णोद्धार व सौंदर्यीकरण कार्यों का लोकार्पण मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ सावन के पहले दिन यानी गुरुवार, 14 जुलाई को करेंगे.

बता दें कि आध्यात्मिक व सांस्कृतिक स्थलों को संवारने में योगी सरकार हमेशा आगे रहती है. यही कारण है कि गोरखनाथ ओवरब्रिज के समीप स्थित पौराणिक व ऐतिहासिक महत्व वाले मानसरोवर शिव मंदिर तथा मंदिर के पास स्थित रामलीला मैदान अंधियारी बाग को नया रूप दिया गया है.

6 करोड़ खर्च कर किए गए कई काम
मानसरोवर शिव मंदिर को सजाने-संवारने में 6 करोड़ रुपए खर्च किए गए हैं. मंदिर परिसर में मल्टीपरपज हॉल, प्रसाधन, 50 लोगों की क्षमता का रैन बसेरा, दो टूरिस्ट शेल्टर, परिसर स्थित सरोवर पर रेड स्टोन रेलिंग, हवन कुंड, रेड स्टोन पाथवे, उद्यान, महिला-पुरुष व दिव्यांगजन के लिए टॉयलेट ब्लॉक, पार्किंग, बाउंड्री वाल का निर्माण, लैंडस्कैपिंग, प्रवेश द्वार, पार्किंग के निर्माण के साथ ही सोलर पैनल तथा विक्टोरिया व गार्डन लाइट लगाए गए हैं.

अंधियारीबाग पर खर्च किए गए 1.64 करोड़
मानसरोवर शिव मंदिर के पास स्थित रामलीला मैदान (अंधियारीबाग) का जीर्णोद्धार तथा सुंदरीकरण 1.64 करोड़ रुपए की लागत से कराया गया है. रामलीला के लिए मंच, ग्रीन रूम, बाउंड्रीवाल, टॉयलेट ब्लॉक, उद्यान, दो प्रवेश द्वार बनाने के साथ ही लैंडस्कैपिंग भी कराई गई है. रामलीला मैदान में स्थित डॉ. बी.आर. अंबेडकर की प्रतिमा स्थल का सौंदर्यीकरण भी कराया गया है. अब यह दोनों ही जगह लोगों को नया अनुभव देंगी.

बता दें कि इस मंदिर का संरक्षण गोरखनाथ मंदिर द्वारा ही होता है. विजयदशमी के दिन गोरखनाथ मंदिर से निकलने वाली गोरक्षपीठ के महंत की शोभायात्रा इसी मंदिर पर आकर समाप्त होती है. गोरक्षपीठ के अब तक जो भी महंत रहे, वे वर्षों से विजयादशमी के दिन मानसरोवर मंदिर परिसर में स्थित शिव मंदिर, रामजानकी मंदिर, राधाकृष्ण मंदिर और दुर्गा मंदिर में परंपरागत रूप से पूजा कर रहे हैं.

Tags: CM Yogi Aditya Nath, Gorakhpur news, Sawan somvar



Source link

more recommended stories