गोरखपुर: एक पंखे से लटके मिले 2 बेटियों के शव, दूसरे से लटकी थी पिता की लाश, जानें पूरा मामला


हाइलाइट्स

गोरखपुर में पिता और दो बेटियों के शव पंखे से लटके हुए मिले.
शव के पास सुसाइड नोट मिला, बदतर आर्थिक हालात का जिक्र.
गोरखपुर सेंट्रल अकादमी में 10वीं और 9वीं में पढ़ती थी बेटियां.

गोरखपुर. गोरखपुर में संदिग्ध परिस्थितियों में एक ही परिवार के तीन लोगों की मौत से सनसनी मच गई है. घर के कमरों से पिता समेत दो बेटियों की लाश को पुलिस ने बरामद किया गया है. फंदे पर लटके शवों को पुलिस ने उतारा और पोस्टमार्टम के लिए भेजकरमामले की जांच में जुट गई. घटना शाहपुर थाना क्षेत्र के गीता वाटिका इलाके की है.

घोसीपुरवा में पिता और दो बेटियों का फंदे पर लटका शव मिलने से सनसनी फैल गई है. कमरे में एक ही पंखे पर दोनों बेटियों के शव दुपट्टे से लटके मिले. वहीं, दूसरे पंखे पर पिता का भी शव लटका मिला. सूचना पर पहुंची पुलिस मामले की जांच पड़ताल में जुटी है. खराब आर्थिक स्थिति और कर्ज के कारण सुसाइड की आशंका जताई जा रही है.

बताया जा रहा है कि मृतक जितेन्द्र श्रीवास्तव घर में सिलाई का काम करते थे. मंगलवार की सुबह जितेन्द्र श्रीवास्तव समेत उनकी दोनों बेटियां मान्या और मानवी के शव फांसी पर लटके मिले. मृतक के भाई नितेश ने बताया कि मान्या 10वीं और मानवी 9वीं में सेंट्रल अकादमी में पढ़ती थी. नवीन पेशे से दर्जी थे.

मिली जानकारी के मुताबिक करीब दो साल पहले नवीन की पत्नी की मौत हो चुकी थी. एसएसपी सिटी डॉ. गौरव ग्रोवर ने बताया है कि घर में मिली डायरी से मृतक द्वारा कई लोगों से कर्ज लेने के साथ ही बच्चों की फीस नहीं भर पाने की भी बात सामने आ रही है. फिलहाल शवों का पोस्टमार्टम कराया जा रहा है जिससे उनकी मौत की असल वजह का पता चल पाए.

ब्रेकिंग न्यूज़ हिंदी में सबसे पहले पढ़ें News18 हिंदी| आज की ताजा खबर, लाइव न्यूज अपडेट, पढ़ें सबसे विश्वसनीय हिंदी न्यूज़ वेबसाइट News18 हिंदी|

FIRST PUBLISHED : November 15, 2022, 16:34 IST



Source link