गोरखनाथ मंदिर हमला: पुलिस ने महाराजगंज से उठाए 2 संदिग्‍ध, जानें रॉ के फर्जी आई कार्ड से लेकर पाक कनेक्‍शन तक

योगी सरकार 2.0: एक्‍शन में यूपी पुलिस, 48 घंटे में 4 मुठभेड़, 8 बदमाश गिरफ्तार, हथियार, गाड़ियां और नकदी बरामद


महाराजगंज. गोरखनाथ मंदिर पर हमले के बाद यूपी पुलिस अलर्ट है. इस बीच भारत-नेपाल के सोनौली बॉर्डर पर पुलिस का सख्‍त पहरा है. वहीं, महाराजगंज के नौतनवा थाना क्षेत्र के नगर पालिका नौतनवा में स्थित एक गेस्ट हाउस से पुलिस ने बुधवार देर रात छापेमारी कर दो संदिग्धों को उठाया है. इनके पास से मानचित्र, पिस्टल, फोन आदि बरामद किए गए हैं. इस वक्‍त एसटीएफ, एटीएस, आईबी, एसएसबी और रॉ की टीम पूछताछ कर रही हैं.

वहीं, जांच में पता चला है कि पकड़े गए दोनों लोगों के नाम राहिल परवेज और निखलेश हैं. इसमें से परवेज के पास से रॉ का फर्जी आईडी कार्ड बरामद हुआ है. इसके साथ पुलिस को दोनों संदिग्धों के तार किसी बड़ी आपराधिक गतिविधि से जुड़े होने के संकेत मिल रहे हैं, क्‍योंकि परवेज के मोबाइल से पाकिस्‍तान में बात हुई है, तो निखलेश लगातार नेपाल में फोन कर रहा था.

फर्जी रॉ अधिकारी बन परवेज ने किया ये खेल, फिर…
जानकारी के मुताबिक, पुलिस की गिरफ्त में आए परवेज की पहली शादी सोनिया शाक्य से हुई थी, जो कि दिल्ली में रहती थी. हालांकि वह मूलतः राजस्थान की रहने वाली थी. दोनों फेसबुक के माध्यम से संपर्क में आए थे. इसके बाद सोनिया 27 अप्रैल 2014 को अपने घर से भाग गई थी. वहीं, दोनों ने नवंबर 2014 में बनारस में कोर्ट मैरिज कर ली. इसके बाद उसने राहिल के दबाव में अपना नाम जिया खान रख लिया था. जबकि दोनों का रेहान नाम का छह साल का बेटा है.

इस बीच अगस्त 2021 में सोनिया अपने बच्चे के साथ 10 लाख का गहने और रुपये लेकर फरार हो गयी. इसके बाद परवेज ने फर्जी रॉ अधिकारी बनकर तलाकशुदा महिला रूबी मौर्य को अपने प्रेम जाल में फंसा लिया. हालांकि उसे पहली शादी से पांच साल का बेटा है, जिसका नाम रुद्रांश है.

इस वजह से पुलिस की गिरफ्त में फंसा परवेज
जानकारी के मुताबिक, परवेज अपनी पहली पत्‍नी सोनिया उर्फ जिया की तलाश में लगा था. इस बीच वह कलकत्ता के रहने वाले इंद्रनील मंडल के संपर्क में आ गया, जोकि साइबर हैकर है. दरअसल इंद्रनील मंडल ने उससे कहा था कि वह सोनिया को तलाश लेगा. वहीं, वह हैकर के झांसे में आकर अपनी पहली पत्नी सोनिया शाक्य उर्फ जिया की तलाश में सोनौली बॉर्डर पहुंच गया. इसके बाद इंटरनेट कॉल से पता चला कि उसकी पत्‍नी 12 मार्च को बीरगंज बॉर्डर से नेपाल में प्रवेश करके 14 मार्च को जयनगर से वापस लौट गई है. हैकर ने बताया कि काठमांडू में उसकी पत्नी है. इसके साथ इंद्रनील मंडल ने नेपाल पुलिस की मदद से उसकी पत्नी को वापस लाने का आश्वासन दिया. हैकर ने बताया कि 2 अप्रैल को गोरखपुर से साथ चलेंगे. परवेज ने सोनिया को तलाश करने के लिए इंद्रनील मंडल के अकाउंट में करीब 18 लाख रुपये ट्रांसफर किए थे.

वहीं, महाराजगंज के पुलिस अधीक्षक प्रदीप गुप्ता ने बताया कि एक गेस्ट हाउस में दो संदिग्धों को हिरासत में लेकर पूछताछ की जा रहा है. एक का नाम राहिल परवेज तो दूसरा उसका ड्राइवर (निखलेश) है. परवेज के पास से रॉ का फर्जी आईडी कार्ड बरामद हुआ है. यह दोनों बनारस के रहने वाले हैं.

आपके शहर से (महाराजगंज)

उत्तर प्रदेश
महाराजगंज

उत्तर प्रदेश
महाराजगंज

Tags: Gorakhnath Temple Attack, India-Nepal Border, Maharajganj News



Source link

more recommended stories