Ganga Vilas:काशी पहुंचे शंकर महादेवन ने चखा मलइयो का स्वाद, क्रूज रवानगी से पहले सुनाएंगे मां गंगा की गाथा – Shankar Mahadevan Tasted Malaiyo Narrate Story Of Maa Ganga Before Ganga Vilas Cruise Departure


लंका स्थित लस्सी दुकान पर शंकर महादेवन
– फोटो : अमर उजाला

महादेव की नगरी में गुरुवार को बाबा के धाम में कर्तव्य गंगा की प्रस्तुति का क्षण हर किसी के लिए अकल्पनीय होगा। शंकर महादेवन भगवान शिव के धाम में मां गंगा को स्वरांजलि अर्पित करेंगे। गंगा विलास क्रूज की रवानगी की पूर्व संध्या पर शंकर महादेवन श्रद्धालुओं और पर्यटकों को कर्तव्य गंगा का अहसास कराएंगे।

श्री काशी विश्वनाथ कॉरिडोर में शंकर महादेवन के कार्यक्रम का आयोजन होगा और गंगा विलास क्रूज पर सवार पर्यटक इसका आनंद लेंगे। बुधवार देर शाम शंकर महादेवन बनारस पहुंच गए। प्रशंसकों के साथ ही वह लंका स्थित पहलवान लस्सी की दुकान पर पहुंचे और उन्होंने मलइयो व रबड़ी का स्वाद लिया।

 बाबा के धाम में गुरुवार को होने वाली शंकर महादेवन की सुर संध्या यह अहसास कराएगी कि मां गंगा कैसे हर भारतीय तथा संपूर्ण मानवता के लिए एक देवी के रूप में पूजनीय है। इस संगीत कार्यक्रम में अलग-अलग राज्यों से अलग-अलग गानों को चुना गया है।

असम, बिहार और बंगाल के लोक संगीतकार गंगा, यमुना और ब्रह्मपुत्र नदियों को श्रद्धा भाव प्रदर्शित करने के लिए लोकप्रिय गायक शंकर महादेवन के साथ शामिल होंगे। तकरीबन एक घंटे के शो का समापन शंकर महादेवन की ’कर्तव्य गंगा’ की स्तुति के साथ होगा। ’कर्तव्य गंगा’ नदी देवी से वादा करता है कि हर भारतवासी हमेशा उसकी देखभाल करेगा। उसके जल की रक्षा के लिए हम सबलोग सब कुछ करेंगे जैसे वह हमेशा हमारी रक्षा करती रही हैं।

विस्तार

महादेव की नगरी में गुरुवार को बाबा के धाम में कर्तव्य गंगा की प्रस्तुति का क्षण हर किसी के लिए अकल्पनीय होगा। शंकर महादेवन भगवान शिव के धाम में मां गंगा को स्वरांजलि अर्पित करेंगे। गंगा विलास क्रूज की रवानगी की पूर्व संध्या पर शंकर महादेवन श्रद्धालुओं और पर्यटकों को कर्तव्य गंगा का अहसास कराएंगे।

श्री काशी विश्वनाथ कॉरिडोर में शंकर महादेवन के कार्यक्रम का आयोजन होगा और गंगा विलास क्रूज पर सवार पर्यटक इसका आनंद लेंगे। बुधवार देर शाम शंकर महादेवन बनारस पहुंच गए। प्रशंसकों के साथ ही वह लंका स्थित पहलवान लस्सी की दुकान पर पहुंचे और उन्होंने मलइयो व रबड़ी का स्वाद लिया।

 बाबा के धाम में गुरुवार को होने वाली शंकर महादेवन की सुर संध्या यह अहसास कराएगी कि मां गंगा कैसे हर भारतीय तथा संपूर्ण मानवता के लिए एक देवी के रूप में पूजनीय है। इस संगीत कार्यक्रम में अलग-अलग राज्यों से अलग-अलग गानों को चुना गया है।



Source link