गाजियाबाद नगर निगम की बैठक संपन्‍न, जानिए जनता को राहत देने वाला ये प्रस्‍ताव खारिज


गाजियाबाद. नगर निगम की कार्यकारिणी की बैठक शुक्रवार को हुई. आम लोगों के लिए राहत भरी खबर यह है कि संपत्ति कर नहीं बढ़ेगा. डीएम सर्किल रेट से संपत्तिकर लगाने का प्रस्‍ताव बोर्ड बैठक में खारिज कर दिया गया. बैठक में चालू वित्त वर्ष का मूल बजट और कई अन्य प्रस्ताव भी पेश किए गए. कार्यकारिणी में चालू वित्त वर्ष 2022 -23 का बजट पास कर दिया गया. बजट के दिए गए आंकड़ों के मुताबिक रिजर्व में निगम के पास 517 करोड़ रुपये हैं. चालू वित्त वर्ष के लिए नगर निगम ने करीब 900 करोड़ रुपये की आय और 1367 करोड़ रुपये का बजट पास किया.

नगर निगम कार्यकारिणी की बैठक आज सुबह शुरू हुई, जिसमें सबसे पहले बजट पर चर्चा की गई. हाल ही में एक कंपनी द्वारा किए गए सर्वे के बाद लोगों को मिल रहे गलत नोटिस पर भी चर्चा हुई. इसमें नगर आयुक्त ने कहा की फाइनल नोटिस तब ही जारी किया जाएंंगे, जब नगर निगम संतुष्ट होगा. इसके अलावा कार्यकारिणी ने डीएम सर्किल रेट के हिसाब से हाउस टैक्स बढ़ाने के प्रस्ताव को खारिज किया गया.

गाजियाबाद में बिजली कनेक्‍शन लेने के लिए उपभोक्‍ताओं को नहीं जाना होगा बिजली ऑफिस

कार्यकारिणी का कहना था कि इस प्रस्ताव पर चर्चा बोर्ड में कराई जाए. इस मामले में सबसे महत्वपूर्ण एक प्रस्ताव पास हुआ, जिसमें कहा गया कि बिना बजट सील के किसी भी विकास के कार्य को तब ही कराया जाएगा, जब उस पर बजट सील लागू होगी. इस दौरान नगर आयुक्त ने स्पष्ट कर दिया कि जब तक नगर निगम के पास पैसा होगा, तब तक ही विकास कार्य कराए जाएंगे. अगर पैसा नहीं होगा तो विकास कार्य नहीं कराए जाएंगे, हालांकि इमरजेंसी के काम जारी रहेंगे.

ये भी पढ़ें: एनसीआर में घर लेने का मौका, गाजियाबाद विकास प्राधिकरण ने लांच की योजना

टैक्स की वसूली के टारगेट को हासिल करने के लिए प्रोजेक्ट मैनेजमेंट यूनिट तैनात की जाएगी. इसके तहत प्रत्येक जोन में चार-चार कर्मचारी तैनात होंगे. जीआईएस सर्वेयर कंपनी द्वारा करीब पौने तीन लाख के सापेक्ष करीब दो लाख संपत्तियों की खोज करने का डेटा पेश किया गया. नए सर्वे के हिसाब से करीब पांच लाख 80 हजार प्रॉपर्टी से टैक्स वसूला जाएगा. ऑयलेट की बाहरी दीवार का विज्ञापन के लिए यूज करने का प्रस्ताव कार्यकारिणी में पेश किया गया. नेहरूनगर स्थित ऑडिटोरियम और रमतेराम रोड स्थित व्यवसायिक कॉम्पलेक्स को लीज रेट पर देने, का प्रस्ताव भी कार्यकारिणी में पेश किया गया.

Tags: Ghaziabad News, Property tax



Source link

more recommended stories