एक नाविक के बुलावे पर प्रियंका क्यों जा रही हैं प्रयागराज, जानिये पूरा मामला

प्रियंका गांधी यूपी की सरकार पर हमला बोलने की तैयारी में हैं. कानून-व्यवस्था के मुद्दे पर योगी सरकार को घेरने रविवार को प्रियंका गांधी उस नाविक के बुलावे पर प्रयागराज पहुंच रही हैं. जिस नाविक की नाव के जरिये मौनी अमावस्या के दिन प्रियंका गांधी ने संगम पर जाकर संगम स्नान किया था.
प्रियंका गांधी यूपी की सरकार पर हमला बोलने की तैयारी में हैं. कानून-व्यवस्था के मुद्दे पर योगी सरकार को घेरने रविवार को प्रियंका गांधी उस नाविक के बुलावे पर प्रयागराज पहुंच रही हैं. जिस नाविक की नाव के जरिये मौनी अमावस्या के दिन प्रियंका गांधी ने संगम पर जाकर संगम स्नान किया था.


प्रियंका गांधी यूपी की सरकार पर हमला बोलने की तैयारी में हैं. कानून-व्यवस्था के मुद्दे पर योगी सरकार को घेरने रविवार को प्रियंका गांधी उस नाविक के बुलावे पर प्रयागराज पहुंच रही हैं. जिस नाविक की नाव के जरिये मौनी अमावस्या के दिन प्रियंका गांधी ने संगम पर जाकर संगम स्नान किया था.

प्रियंका गांधी यूपी की सरकार पर हमला बोलने की तैयारी में हैं. कानून-व्यवस्था के मुद्दे पर योगी सरकार को घेरने रविवार को प्रियंका गांधी उस नाविक के बुलावे पर प्रयागराज पहुंच रही हैं. जिस नाविक की नाव के जरिये मौनी अमावस्या के दिन प्रियंका गांधी ने संगम पर जाकर संगम स्नान किया था.

  • News18Hindi

  • Last Updated:
    February 21, 2021, 1:05 AM IST

लखनऊ. उत्तर प्रदेश में 2022 के विधानसभा चुनाव को लेकर कांग्रेस ने मोदी और योगी सरकार के खिलाफ मोर्चा खोल दिया है. कांग्रेस प्रियंका गांधी के नेतृत्व में किसान और किसान आंदोलन का समर्थन कर यूपी में अपनी सियासी जमीन तैयार कर रही है. किसान आंदोलन को लेकर कांग्रेस मोदी सरकार पर जमकर निशाना साधती नजर आ रही है, तो वहीं अब यूपी में पुलिस उत्पीडऩ पर भी प्रियंका गांधी यूपी की सरकार पर हमला बोलने की तैयारी में हैं. कानून-व्यवस्था के मुद्दे पर योगी सरकार को घेरने रविवार को प्रियंका गांधी उस नाविक के बुलावे पर प्रयागराज पहुंच रही हैं. जिस नाविक की नाव के जरिये मौनी अमावस्या के दिन प्रियंका गांधी ने संगम पर जाकर संगम स्नान किया था.

दरअसल, बीते 11 फरवरी को मौनी अमावस्या के दिन प्रियंका गांधी संगम स्नान के लिए प्रयागराज पहुची थीं. जहां अरैल घाट से संगम तक प्रियंका गांधी ने सुजीत निषाद नाम के नाविक की नाव से संगम पर पहुंचकर संगम स्नान किया था. इस दौरान प्रियंका ने नाविक सुजीत से जब बात कर उसके घर परिवार और रोजी-रोटी के बारे में पूछा तो सुजीत ने खुद की 3 बेटियां होने के साथ एक भाड़े की नाव चलाने के चलते परिवार का सही से भरण-पोषण न कर पाने की बात बताई थी. इसके साथ उसने बसवार गांव के निषादों और मछुआरों की पुलिस द्वारा नाव भी तोड़ दिए जाने की जानकारी देकर प्रियंका गांधी को बसवार आने का निमंत्रण भी दिया था.
इस दौरान नाविक सुजीत निषाद बताते हैं कि मौनी अमावस्या के दिन प्रियंका दीदी मेरे नाव पर संगम स्नान करने के लिए आई थीं. संगम स्नान के बाद उन्होंने मेरी नाव को भी चलाया था.  बसवार में नाव को तोड़ देने की घटना हो गई थी. जिसे मैंने प्रियंका दीदी से बोला था. इसलिए प्रियंका दीदी फिर से प्रयागराज में नावों को देखने और यहां के सभी लोगों की मदद करने के लिए आ रही हैं.






Source link