छात्रा का अपहरण कर रेप के आरोपी को कोर्ट ने सुनाई इतनी कठोर सजा

अमरोहा। यूपी के Amroha जनपद के जिला कोर्ट में छात्रा का अपहरण कर दुष्कर्म करने के मामले में अपर जिला एवं सत्र न्यायाधीश पॉक्सो एक्ट की अदालत ने दोषी को दस साल के कठोर कारावास की सजा सुनाई। 58 हजार रुपये का जुर्माना भी लगाया।

मामला अमरोहा जनपद के आदमपुर थाना क्षेत्र एक गांव में किसान का परिवार रहता है। 11 जून 2014 की शाम कक्षा दस में पढ़ने वाली किसान की नाबालिग बेटी शौच के लिए जंगल गई थी। इसी दौरान गांव के ही निवासी देवकरन ने बहला-फुसलाकर उसका अपहरण कर लिया।

इसके बाद देवकरन द्वारा छात्रा का अपहरण करने की बात सामने आई। छात्रा के पिता ने आरोपी के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कराई। पुलिस ने 12 जून को आरोपी को गिरफ्तार कर छात्रा को बरामद किया। छात्रा ने आरोपी पर डरा-धमकाकर दुष्कर्म करने का आरोप लगाया। पुलिस ने मुकदमे में दुष्कर्म की धारा बढ़ा दी। न्यायालय में आरोप पत्र दाखिल किया। वर्तमान में आरोपी जमानत पर था।मुकदमा अपर जिला एवं सत्र न्यायाधीश विशेष (पॉक्सो एक्ट प्रथम) अवधेश कुमार सिंह की अदालत में विचाराधीन था। गुरुवार को अदालत ने मुकदमे की सुनवाई की। अभियोजन पक्ष की तरफ से विशेष लोक अभियोजक पॉक्सो एक्ट बसंत सिंह सैनी ने पैरवी की।

न्यायालय ने साक्ष्यों के आधार पर आरोपी देवकरन को दोषी करार दिया। 10 साल के कठोर कारावास की सजा के साथ ही 58 हजार रुपये का जुर्माना भी लगाया।