चीन ने तिब्बतियों को निर्वासित बौद्ध मठाधीश के लिए जन्मदिन की बधाई ऑनलाइन पोस्ट न करने की चेतावनी दी | China warns Tibetans not to post online birthday greetings for exiled Buddhist abbot



डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली। चीन ने एक प्रमुख तिब्बती बौद्ध आध्यात्मिक नेता के जन्मदिन से पहले प्रतिबंधों को बढ़ा दिया है। साथ ही दो तिब्बती क्षेत्रों के स्थानीय नेताओं से कहा है कि वे आह्वन करें कि लोग उनकी तस्वीर या शुभकामनाएं ऑनलाइन पोस्ट न करें।

आरएफए ने बताया कि अधिकारियों ने नगाबा और द्जोगे क्षेत्रों में तिब्बतियों को गिरफ्तार करने की धमकी दी है, जो 11वें क्याबजे कीर्ति रिनपोछे (सम्मानित) लोबसंग तेनजि़न जिग्मे येशे ग्यामत्सो रिनपोछे के 80 वें जन्मदिन पर 8 अगस्त को संदेश पोस्ट करके आदेश की अवहेलना करते हैं। रिपोर्ट में कहा गया है कि रिनपोछे तिब्बत के सबसे महत्वपूर्ण और प्रभावशाली मठों में से एक, कीर्ति मठ के निर्वासन में मुख्य मठाधीश हैं।

तिब्बत के अंदर एक तिब्बती सूत्र ने कहा, सरकार ने तिब्बतियों द्वारा इस तरह की गतिविधि के बारे में चेतावनी दी है, और अगर लोग इसका उल्लंघन करते पाए गए तो उन्हें गिरफ्तार किया जाएगा और कड़ी सजा दी जाएगी।

चीनी अधिकारियों ने 2021 में रिनपोछे का जन्मदिन मनाने से, सिचुआन प्रांत के नगाबा तिब्बती स्वायत्त प्रान्त में, डोजोगे काउंटी में ताकत्संग ल्हामो कीर्ति मठ और नगाबा काउंटी में कीर्ति मठ के भिक्षुओं को प्रतिबंधित कर दिया।

आरएफए ने बताया कि भिक्षुओं को अपने मठों को छोड़ने की अनुमति नहीं है, और उस दौरान सभाओं की अनुमति नहीं थी। निर्वासन में रहने वाले एक तिब्बती ने कहा, पिछले साल तिब्बत के अंदर तिब्बतियों ने कृति रिनपोछे के 80 वें जन्मदिन को मनाने पर चीनी सरकार से प्रतिबंध और जांच की उम्मीद की थी, इसलिए वे पीछे हट गए।

सूत्र ने आध्यात्मिक शिक्षकों को दी गई लंबी उम्र की प्रार्थना का जिक्र करते हुए कहा, लेकिन इस साल, निर्वासन में और तिब्बत के अंदर रहने वाले तिब्बती रिनपोछे के जन्मदिन को मनाने और तेनशुग की पेशकश करने के लिए उत्सुक हैं। आरएफए ने बताया कि कीर्ति मठ तिब्बत में चीन की दमनकारी नीतियों का विरोध करने वाले भिक्षुओं द्वारा आत्मदाह करने का अधिकांश स्थान रहा है।

 

आईएएनएस

डिस्क्लेमरः यह आईएएनएस न्यूज फीड से सीधे पब्लिश हुई खबर है. इसके साथ bhaskarhindi.com की टीम ने किसी तरह की कोई एडिटिंग नहीं की है. ऐसे में संबंधित खबर को लेकर कोई भी जिम्मेदारी न्यूज एजेंसी की ही होगी.



Source link

more recommended stories