बुलेट की तेज आवाज का विरोध करना परिवार को पड़ा महंगा, दबंगों ने मां-बेटे को जमकर पीटा


हाइलाइट्स

घर के सामने बुलेट की तेज आवाज का विरोध करने पर मां-बेटे की हुई पिटाई
पुलिस के सामने भी नशेबाज दबंग परिवार को जान से मारने की देता रहा धमकी

फतेहपुर. यूपी के फतेहपुर में बुलेट की तेज आवाज का विरोध करना एक परिवार को महंगा पड़ गया. लाठी-डंडे और धारदार हथियार से लैश बेखौफ दबंगों ने मां और बेटे को जमकर पीटा. बवाल की खबर के बाद भारी पुलिस फोर्स मौके पर पहुंची. हैरानी की बात है कि पुलिस बल की मौजूदगी में भी बेखौफ दबंग परिवार को जान से मारने के लिए ललकारते हुए अपनी लाइसेंसी पिस्टल तान दी. इस दौरान मौके पर मौजूद पुलिसकर्मी लाचार दिखे और वह घटना का वीडियो अपने मोबाइल से शूट करते रहे.

हालात बिगड़ता देख जब वहां मौजूद पुलिसकर्मियों ने काबू करने की कोशिश की तो असलहाधारी दबंग ने उनसे भी अभद्रता की और कानून का पाठ पढ़ाते हुए उल्टा पुलिसकर्मियों को मर्यादा में रहने की नसीहत दे डाली. दरअसल, पुलिस को नसीहत देने वाला यह दबंग होटल संचालक के साथ ही पेशे से अधिवक्ता भी बताया जा रहा है. जिसे भारी बवाल के बीच भी पुलिस गिरफ्तार करने की हिम्मत नहीं जुटा पाई. बहरहाल, पुलिसकर्मियों ने किसी तरह मामला शांत कराकर हमले में घायल मां और बेटे को उपचार के लिए जिला अस्पताल में भर्ती कराया.

पुलिस ने अभी तक नहीं दर्ज की FIR
घटना थाना कोतवाली क्षेत्र के पटेल नगर चौराहे की है. पीड़ित महिला रीता देवी ने बताया कि दबंग शराब के नशे में अपनी बुलेट लेकर मेरे घर के सामने एक्सीलेटर से लगातार तेज आवाज निकाल रहे थे. जब मेरा बेटा हेमंत वर्मा ने उन्हें घर के पास बुलेट की तेज आवाज करने से मना किया तो वह गाली-गलौज करने लगे. जब तक मैं कुछ समझ पाती तब तक आधा दर्जन से अधिक दबंगों ने लाठी-डंडे और धारदार हथियार से मेरे बेटे के सिर पर हमला कर दिया. जिससे वह लहूलुहान होकर जमीन पर गिर पड़ा. जब मैंने उसे बचाने की कोशिश की तो मुझे भी बहुत मारा पीटा. इस दौरान मेरे परिवारीजनों ने दबंगो की गुंडई का विरोध किया तो पुलिस की मौजूदगी में ललकारते हुए जान से मारने के नियत से पिस्टल तान दी. पीड़ित महिला का यह भी आरोप है कि हमलावरों ने मारपीट के बाद लूटपाट भी की है. इस मामले की तहरीर उसने थाने में दी, लेकिन पुलिस ने अभी तक उनकी रिपोर्ट नहीं दर्ज की है. वहीं इन पूरे घटनाक्रम का वीडियो सामने आने के बाद भी पुलिस अधिकारी इस मामले पर कुछ भी बोलने से बच रहें है.

Tags: Fatehpur News, UP latest news



Source link

more recommended stories