Bulandshahr: पुलिस और पीएसी के पहरे में हुई दलित CRPF जवान की घुड़चढ़ी, जानें पूरा मामला


इस दौरान पूरे गांव में चप्पे-चप्पे पर पीएसी और कई थानों की पुलिस तैनात की गई थी. इस दौरान दूल्‍हे ने कहा कि मैंने अपनी सुरक्षा के लिए एसएसपी से मदद मांगी थी, क्‍योंकि घुड़चढ़ी के वक्‍त लड़ाई झगडे़ का कोई मतलब नहीं है. मैं खुश हूं कि प्रशासन ने हमें पूरा सपोर्ट दिया है और खुशी खुशी सब काम हो रहे हैं. उम्‍मीद है आगे भी गांव ऐसा ही माहौल रहेगा.



Source link

more recommended stories