BSP प्रमुख मायावती बोलीं- मेरे रिश्‍तेदार भी मतलबी; स्वार्थी लोगों की कमी नहीं

बीएसपी के खिलाफ षड़यंत्र कर रहीं जातिवादी शक्तियां.


हाइलाइट्स

बसपा सुप्रीमो मायावती ने दलित संगठनों पर बोला हमला
भितरघातियों पर फूटा मायावती का गुस्‍सा
अपने रिश्तेदारों से नाराज हुईं BSP सुप्रीमो मायावती

लखनऊ. बहुजन समाज पार्टी (BSP) की राष्ट्रीय अध्यक्ष मायावती (Mayawati) ने रविवार को अपने ही पार्टी के लोगों पर गुस्सा निकाला है. उन्होंने ट्विटर पर सिलसिलेवार तीन ट्वीट करके बिना नाम लिए पार्टी के अंदर नेताओं पर गंभीर आरोप लगाए. उन्होंने भीतरघातियों से पार्टी कार्यकर्ताओं को सावधान रहने की अपील भी की. साथ ही उन्होंने अपने छोटे भाई आनंद कुमार की जमकर तारीफ की है. उन्होंने कहा कि बसपा को कमजोर करने के लिए जातिवादी शक्तियां पर्दे के पीछे से षडयंत्र करती रहती हैं. बसपा सुप्रीमो मायावती ने कहा, ‘‘CBI की छापेमारी के बाद कुछ रिश्तेदार परिवार के साथ दिल्ली वाला घर छोड़ कर चले गए. मगर, सरकारी नौकरी छोड़कर भाई आनंद मेरी सेवा और पार्टी के काम में लगा है.’’

तीन सिलसिलेवार ट्वीट में बसपा अध्‍यक्ष ने आरोप लगाते हुए लिखा कि स्वार्थी किस्म के लोगों ने कई कागजी संगठन बनाए हुए हैं. खासकर बामसेफ और डीएस4 के नाम पर ये संगठन काम कर रहे हैं. सामाजिक चेतना पैदा करने की आड़ में ये अपना स्वार्थ सिद्ध कर रहे हैं. अब यही काम बसपा में कुछ निष्क्रिय हुए लोग भी दूसरे तरीके से कर रहे हैं. यह दुर्भाग्यपूर्ण है. ऐसे में यह माना जा रहा है कि जल्द ही मायावती कुछ सीनियर नेताओं पर कार्रवाई कर सकती हैं.

बीएसपी के खिलाफ षड़यंत्र कर रहीं जातिवादी शक्तियां.

मायावती ने आगे कहा कि जातिवादी शक्तियां पर्दे के पीछे से बसपा को कमजोर करने का षडयंत्र करती रहती हैं. ऐसे स्वार्थी लोगों को मदद कर कागजी पार्टी बनवाई जाती है. चुनाव में दलित और शोषितों का वोट बांटने की ये लोग कोशिश करते हैं. उन्होंने अपने समर्थकों से पार्टी और मूवमेंट के हित में ऐसे लोगों से सावधान रहने की अपील की है.

खराब दौर में भाई का मिला सहारा
बता दें कि मायावती पर काफी दिनों से पार्टी में आकाश आनंद को बढ़ावा देने के आरोप लग रहे हैं. आकाश उनके छोटे भाई आनंद कुमार के बेटे हैं. पिछले दिनों वे लगातार बसपा सुप्रीमो के साथ नजर आए हैं. आज के ट्वीट में मायावती उन सभी को जवाब देती दिख रही हैं. उन्होंने साफ किया कि सबसे खराब दौर में उनके भाई ही साथ खड़े नजर आए हैं.

Tags: BSP chief Mayawati, BSP MLA, UP news, UP politics



Source link

more recommended stories