भाजपा के पूर्व प्रवक्ता को गिरफ्तार नहीं करने का फैसला इस्लाम के प्रति भारत की नफरत को दर्शाता है: बिलावल भुट्टो | Decision not to arrest former BJP spokesperson shows India’s hatred towards Islam: Bilawal Bhutto



डिजिटल डेस्क, इस्लामाबाद। पाकिस्तान के विदेश मंत्री बिलावल भुट्टो-जरदारी ने शुक्रवार को भारत के सुप्रीम कोर्ट के उस फैसले की निंदा की, जिसमें भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) की पूर्व प्रवक्ता नूपुर शर्मा को पैगंबर मुहम्मद मामले में गिरफ्तार होने से सुरक्षा प्रदान करने का फैसला किया गया था। पाकिस्तान के विदेश मंत्री ने कहा कि भाजपा के पूर्व प्रवक्ता को गिरफ्तार नहीं करने के इस फैसले से पता चलता है कि भारत को न केवल पाकिस्तान बल्कि इस्लाम के प्रति भी नफरत है।

उन्होंने कहा कि भाजपा भारत में रहने वाले मुसलमानों के प्रति नफरत और आतंकवाद को बढ़ावा देती है। उन्होंने कहा, भारत के सर्वोच्च न्यायालय पर हमारा कम से कम प्रभाव है, हालांकि, हमें जागरूकता बढ़ाने के लिए इस्लामिक सहयोग संगठन (ओआईसी) और संयुक्त राष्ट्र (यूएनएए) सहित अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर इस मुद्दे को उठाने की आवश्यकता है और हमने इस मुद्दे को उठाया है। जियो न्यूज की रिपोर्ट के मुताबिक बिलावल ने कहा कि लोग अब इन हरकतों से भारत का असली चेहरा देख रहे हैं।

सुप्रीम कोर्ट ने बुधवार को भाजपा की निलंबित प्रवक्ता नूपुर शर्मा के खिलाफ पैगंबर मुहम्मद पर उनकी विवादास्पद टिप्पणी को लेकर दर्ज सभी प्राथमिकी दिल्ली पुलिस को स्थानांतरित कर दी। शीर्ष अदालत ने उन्हें प्राथमिकी रद्द करने के लिए दिल्ली उच्च न्यायालय का दरवाजा खटखटाने की स्वतंत्रता दी, और अदालत की निगरानी में एसआईटी जांच के लिए पश्चिम बंगाल सरकार द्वारा दायर एक याचिका पर विचार करने से भी इनकार कर दिया। न्यायमूर्ति सूर्यकांत और न्यायमूर्ति जेबी पारदीवाला की पीठ ने शर्मा के खिलाफ देश भर में दर्ज सभी प्राथमिकियों को एक साथ जोड़ने का आदेश दिया, जिसकी जांच दिल्ली पुलिस करेगी।

(आईएएनएस)

डिस्क्लेमरः यह आईएएनएस न्यूज फीड से सीधे पब्लिश हुई खबर है. इसके साथ bhaskarhindi.com की टीम ने किसी तरह की कोई एडिटिंग नहीं की है. ऐसे में संबंधित खबर को लेकर कोई भी जिम्मेदारी न्यूज एजेंसी की ही होगी.



Source link

more recommended stories