Basti : अब नहीं जाना पड़ेगा लखनऊ या गोरखपुर, बस्ती के मेडिकल कॉलेज में ही होगी MRI जांच, जानें कबसे


रिपोर्ट – कृष्ण गोपाल द्विवेदी

बस्ती. जनपदवासियों को सरकार एक और बड़ी सौगात देने जा रही है. यहां के महर्षि वशिष्ठ मेडिकल कॉलेज में एमआरआई मशीन लगने जा रही है. यहां मरीजों को 31 दिसम्बर से पहले एमआरआई मशीन की सौगात मिल जाएगी. अब जनपदवासियों को एमआरआई के लिए दूसरे जिलों में जाने की जरूरत नहीं पड़ेगी. अभी तक बस्ती में मरीजों को एमआरआई कराने के लिए गोरखपुर, लखनऊ जाना पड़ता है. बस्ती के साथ साथ आस पास के लगभग 7-8 जिलों के मरीजों को भी इसका फ़ायदा मिलेगा.

मैग्नेटिक रेज़ोनेंस इमेजिंग यानी एमआरआई एक चिकित्सा इमेजिंग तकनीक है, जोकि मरीजों के शरीर में अंगों और ऊतकों की विस्तृत छवियां बनाने के लिए चुंबकीय क्षेत्र और कंप्यूटर से उत्पन्न रेडियो तरंगों का उपयोग करती है. यह शरीर की छोटी से छोटी समस्या को बता देती है, जिससे मरीजों को समय के साथ बेहतर इलाज भी मिल जाता है.

दिसम्बर में ही शुरू हो जाएगी जांच

मेडिकल कॉलेज के प्रिंसिपल डॉ. मनोज कुमार ने बताया कि एमआरआई मशीन से रोगी दिसम्बर से इलाज करवा सकेंगे. इसके लिए सारी तैयारियां कर ली गई हैं और शुल्क लगेगा या नहीं? शासन की अनुमति के अनुसार इसका फैसला बाद में होगा. इधर, मरीजों का कहना है कि अभी तक बस्ती में किसी भी हॉस्पिटल में एमआरआई कराने की सुविधा न होने से इलाज में काफी समय लगता था. अब मेडिकल कॉलेज में एमआरआई मशीन लग जाने से मरीजों का समय और पैसा दोनों बचेगा.

अपने भाई को मेडिकल कॉलेज में दिखाने आए सुभाष ने बताया ‘मेरे भाई को स्पाइनल की दिक्कत है. डॉक्टर ने एमआरआई कराने को बोला है. हम लोग लखनऊ जा रहे हैं. अब अगर यहां एमआरआई की सुविधा हो जाएगी तो हम लोगों को लखनऊ नहीं जाना पड़ेगा.’

Tags: Basti news, District Hospital



Source link