Bareilly Triple Murder:हिस्ट्रीशीटर सुरेश प्रधान पर दर्ज हैं 34 मुकदमे, तलाश में जुटीं पुलिस की कई टीमें – 34 Cases Are Registered Against History Sheeter Suresh Pradhan In Bareilly


बरेली के थाना फरीदपुर क्षेत्र में कटरी की जमीन पर कब्जे को लेकर हुई गोलीबारी का मुख्य आरोपी सुरेश पाल सिंह तोमर उर्फ सुरेश प्रधान का लंबा आपराधिक इतिहास है। करीब 20 साल से उसका आवास उझानी होने के कारण हिस्ट्रीशीट वहां ट्रांसफर कर दी गई। बृहस्पतिवार को जब एसएसपी समेत कई अधिकारियों ने फरीदपुर कोतवाली में डेरा डाला तो उसके खिलाफ दर्ज केस की सूची तैयार की गई। पता लगा कि सुरेश पर 34 मुकदमे हैं। 

फरीदपुर थाने में 1985 में उसके खिलाफ सबसे पहले दो मुकदमे दर्ज हुए। इनमें एक हत्या और दूसरा हत्या की कोशिश का था। वर्ष 1985 में ही बदायूं के थाना दातागंज में डकैती का मुकदमा दर्ज हुआ। इसके बाद सुरेश के खिलाफ लगातार केस दर्ज होते रहे। इनमें बलवा, हत्या, हत्या की कोशिश, गैंगस्टर एक्ट, आर्म्स एक्ट, चोरी, गुंडा अधिनियम जैसे मामले शामिल हैं। सुरेश प्रधान के खिलाफ सर्वाधिक मामले फरीदपुर थाने में दर्ज हैं। 

कैंट, भमोरा, इज्जतनगर, कोतवाली समेत अन्य थानों में भी मामले दर्ज हैं। हालांकि सुरेश ने अपने प्रभाव का इस्तेमाल कर गवाहों को धमकाकर व अन्य तरीकों से अधिकांश मामलों में आरोपों को बेदम कराने का काम किया और कोर्ट से सजा मिलने से बचता रहा। हाल ही में जुलाई 2022 में 110जी के तहत फरीदपुर से उस पर कार्रवाई की गई। 

थाने में अधिकारियों का जमावड़ा

कटरी में गोलीबारी के बाद बृहस्पतिवार को थाने में अधिकारियों का जमावड़ा रहा। सुबह से ही एसएसपी, एसपी ग्रामीण, एसपी क्राइम व एसओजी पहुंच गई। एसपी ग्रामीण और एसपी क्राइम शाम तक थाने में मौजूद रहे और आरोपियों की गिरफ्तारी व दबिश के लिए मंत्रणा करते रहे। पुलिस ने जिन 20 संदिग्धों उठाया है, अधिकारियों ने उनसे भी पूछताछ की।

 

गिरफ्तारी के लिए लगाईं आठ टीमें

एसएसपी अखिलेश चौरसिया ने बताया कि आरोपियों की गिरफ्तारी के लिए आठ टीमें गठित की हैं। संदेह के आधार पर बदायूं व मुरादाबाद के अस्पतालों में भी सुरेश प्रधान की तलाश की जा रही है। वह घायल हुआ है और कहीं छिपकर इलाज करा रहा है। फिलहाल अज्ञात में शामिल तीन आरोपी गिरफ्तार किए गए हैं। जल्दी ही सुरेश समेत अन्य आरोपियों की गिरफ्तारी की जाएगी। 

33 पर रिपोर्ट, तीन गिरफ्तार

रामगंगा की कटरी में जमीन कब्जाने को लेकर हुई तीन लोगों की हत्या के मामले में पुलिस ने 18 नामजद समेत 33 के खिलाफ हत्या, और अन्य गंभीर धाराओं में रिपोर्ट दर्ज किया है। उनमें से तीन को गिरफ्तार भी कर लिया गया। घटना में इस्तेमाल कार भी बरामद कर ली गई है। सुरेश पाल सिंह तोमर उर्फ सुरेश प्रधान वारदात को अंजाम देने के लिए बदायूं जिले के उझानी थाना क्षेत्र से भाड़े के बदमाश लाया था।

 



Source link