बाराबंकी में सामने आई शर्मसार करने वाली तस्वीर, वाहन नहीं मिला तो बाइक पर पिता का शव लेकर घर पहुंचा बेटा

बाराबंकी में सामने आई शर्मसार करने वाली तस्वीर, वाहन नहीं मिला तो बाइक पर पिता का शव लेकर घर पहुंचा बेटा


बाराबंकी. उत्तर प्रदेश के बाराबंकी (Barabanki News) जिले में स्थित हैदरगढ़ समुदायिक स्वास्थ्य केंद्र से मानवता को शर्मसार करने वाला मामला सामने आया है. यहां एम्बुलेंस नहीं मिलने के कारण एक शख्स को अपने पिता का शव बाइक पर बिठाकर घर ले जाना पड़ा.

यह घटना सुबेहा थाने क्षेत्र के रजवापुर थलवारा गांव की है, जहां 55 वर्षीय शिवशंकर गौतम को टीबी की गंभीर बीमारी थी. सोमवार को अचानक गौतम की तबीयत बिगड़ गई. जिसके बाद परिजन उन्हें लेकर सीएचसी हैदरगढ़ पहुंचे. यहां डॉक्टरों ने शिवशंकर गौतम का इलाज शुरू किया, लेकिन उनकी हालत बिगड़ने से कुछ ही देर में मौत हो गई. इसके बाद परिजनों ने एम्बुलेंस के लिए 108 नंबर पर कॉल किया, जहां बताया गया कि शव को ले जाने के लिए सीएचसी पर एंबुलेंस नहीं है.

ये भी पढ़ें- यूपी के मदरसों में लगातार घट रही मुस्लिम बच्चों की दिलचस्पी, छह साल में 80% घट गई संख्या, जानें वजह

परिजन शव ले जाने के लिए वाहन ढूंढते रहे, लेकिन काफी देर तक वाहन ना मिल पाने के बाद मृतक के बेटे ने गांव के एक अन्य शख्स को फोन कर बाइक लेकर आने को कहा. फिर उसकी बाइक पर अपने पिता के शव को किसी तरह बिठाकर घर लेकर पहुंचा.

यूपी की हर बड़ी खबर एक क्लिक में यहां पढ़ें…

शव को बाइक पर ले जाते हुए देख लोगों ने इसका फोटो भी ले लिया, जो अब वायरल हो रहा है और सरकारी तंत्र पर सवाल खड़ा कर रहा है. वहीं जब इस बारे में हैदरगढ़ सीएससी अधीक्षक मुकुंद पटेल से पूछा गया तो उन्होंने बताया कि शव वाहन जिला चिकित्सालय में रहता है, सीएचसी पर उपलब्ध नहीं था.

आपके शहर से (बाराबंकी)

उत्तर प्रदेश

उत्तर प्रदेश

Tags: 108 ambulance, Barabanki News, Uttar pradesh news



Source link

more recommended stories