बाहुबली विजय मिश्रा को अब सताने लगा अपनी जान का डर, कोर्ट में कही ये बातें…


हाइलाइट्स

पूर्व विधायक विजय मिश्रा ने एडीजी प्रशांत कुमार पर भी गंभीर आरोप लगाए.
पुलिस ने अमवां स्थित पेट्रोल पंप से एके-47, पिस्टल, कारतूस और मैगजीन बरामद की थी.

मिर्जापुर. भदोही जनपद के ज्ञानपुर के पूर्व विधायक बाहुबली विजय मिश्रा शुक्रवार को पेशी के दौरान जब हाजिर हुए तो उन्होंने सरकार पर अपना गुस्सा जाहिर किया. विजय मिश्रा का कहना है कि सरकार खून की प्यासी हो गई है और मेरे परिवार को फंसाना चाहती है. ये सारी साजिश मेरे परिवार को खत्म करने के लिए ही रची जा रही है. पेट्रोल पंप से बरामद हुए AK 47 और भारी मात्रा में कारतूस और पिस्टल की बरामदगी पर पूछे गए सवाल के जवाब में मिश्रा ने एडीजी प्रशांत कुमार पर गंभीर आरोप लगाए.

विजय मिश्रा का कहना था कि बीजेपी विधायक सुशील सिंह ने चार महीने पहले मुझे AK 47 के बारे में बताया था. मुझे फंसाने के लिए एक पकड़ी गई दो और AK 47 एडीजी और डीजी के यहां रखी गई हैं. विजय मिश्रा ने साथ ही कुंडा के चर्चित विधायक राजा भैया को लेकर भी कहा कि उनके संबंध मुख्तार के साथ है. हमारे रिश्ते मुख्तार से खत्म हो चुके हैं. मुख्यमंत्री योगी पर निशाना साधते हुए कहा कि मेरे परिवार को खत्म करने की साजिश हो रही है. मुख्यमंत्री इसकी जांच सीबीआई से कराएं.

विजय मिश्रा ने कोर्ट में जमकर निकाली भड़ास
गौरतलब है कि दुष्कर्म, रिश्तेदार की संपत्ति हड़पने समेत कई मामलों में पूर्व विधायक विजय मिश्रा का पुत्र विष्णु मिश्र आरोपी है. उसी की निशानदेही पर गुरुवार को पुलिस ने अमवां स्थित पेट्रोल पंप से एके-47, पिस्टल, कारतूस और मैगजीन बरामद की थी. इसके बाद शुक्रवार को जब विजय मिश्रा दो लाख की रंगदारी मांगने के मामले में पेशी पर पहुंचे तो जमकर अपनी भड़ास निकाली.

मेरे खिलाफ रची जा रही है साजिश
विजय मिश्रा ने कहा कि मेरे पास तीन एके-47 कई पिस्टल और कारतूस होने का दावा किया जा रहा है. अभी आने वाले दिनों में और भी बरामदगी दिखाई जा सकती है. यह सबकुछ एक साजिश के तहत किया जा रहा है. सरकार जानबूझकर मुझे फंसाने की कोशिश कर रही है. उनका यह भी कहना था कि यह सरकार ब्राह्मणों को परेशान करने का काम कर रही है. बता दें कि बाहुबली विजय मिश्रा का बेटा विष्णु मिश्रा करीब 2 वर्ष से फरार था, जिस पर एक लाख रुपया का इनाम घोषित किया गया था. एसटीएफ की वाराणसी यूनिट ने विष्णु मिश्रा को पुणे से अरेस्ट कर कोर्ट में पेश किया था. जब से भदोही जिला जेल में विष्णु मिश्रा बंद है, तब से सुरक्षा के कड़े बंदोबस्त किए गए थे.

Tags: Mirzapur news, MLA Vijay Mishra



Source link

more recommended stories