Ayodhya: राम की नगरी में वर्षों से चल रही है अनवरत रामलीला, आप भी उठा सकते हैं लुत्फ


रिपोर्ट: सर्वेश श्रीवास्तव
अयोध्या. भगवान राम की नगरी में श्री राम की लीलाओं पर मंचन अनवरत चलता रहता है. 1988 से शुरू हुई राम की लीला का मंचन जानकी महल के मोहन सदन में शुरू किया गया था. करीब 1 साल तक यह मंचन लगातार चला. लेकिन कुछ अड़चन आने की वजह से यह अचानक रुक गया था. इसके बाद रामलीला का मंचन अयोध्या के पर्व और उत्सव पर ही किया जाने लगा था. लेकिन 2014 में इस रामलीला को एक बार फिर स्थाई तौर पर शुरू किया गया. 2015 में तत्कालीन प्रशासनिक अधिकारी अविनाश कुमार की मृत्यु हो जाने के कारण रामलीला मंचन पर फिर से विराम लग गया था. जिसके बाद 2017 में जब उत्तर प्रदेश में बीजेपी की सरकार आई तो मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के निर्देश पर सांस्कृतिक मंत्रालय के सहयोग से एक बार फिर से अयोध्या में रामलीला का मंचन शुरू हुआ जो अभी तक अनवरत चला आ रहा है.

अयोध्या हाइवे के किनारे स्थित अंतरराष्ट्रीय बस अड्डा के पीछे नवनिर्मित प्रेक्षागृह में रामलीला का मंचन शाम 6:00 बजे से रात्रि 9:00 बजे तक प्रतिदिन संचालित किया जाता है, जहां श्रद्धालु सैकड़ों की संख्या में भगवान राम की लीलाओं का आनंद लेते हैं.

रामलीला से मिलती है प्रभु श्री राम के आदर्शों की सीख
श्रद्धालु अंशुमान तिवारी बताते हैं कि अयोध्या वासियों को रामलीला का मंचन देख कर बहुत अच्छा लगता है. इतना ही नहीं अयोध्या के साधु संत भी रामलीला के मंचन में सहभागिता निभाते हैं और सरकार के प्रयासों से अनवरत रामलीला को देखने का सौभाग्य मिलता है.

1988 में शुरू हुआ था रामलीला का मंचन
रामलीला मंचन के प्रबंधक डॉ सुरेश चंद्र शर्मा के मुताबिक अयोध्या में अनवरत चलने वाली रामलीला 1988 में शुरू की गई थी. यह रामलीला उत्तर प्रदेश समेत विभिन्न प्रदेशों में के कलाकारों के द्वारा प्रस्तुत की जाती है.

यहां होती है अनवरत रामलीला
अयोध्या धाम हाइवे के किनारे स्थित अंतरराष्ट्रीय बस अड्डा के ठीक पीछे अनवरत राम की लीला का मंचन किया जाता है. नीचे दिए गए लिंक पर क्लिक करके आप आसानी पहुंच सकते हैं.
Ayodhya Dhaam International Bus Standhttps://maps.app.goo.gl/DK6GMfhfKiSfdPfy5

Tags: Ayodhya City News, UP latest news, अयोध्या



Source link

more recommended stories