अयोध्या के संतों ने देखी The Kashmir Files फिल्म, बोले- इससे भी भयावह था दृश्य

अयोध्या के संतों ने देखी The Kashmir Files फिल्म, बोले- इससे भी भयावह था दृश्य


अयोध्या. कश्मीरी पंडितों (Kashmiri Pandits) पर अत्याचार व बर्बरता पर बनी फिल्म कश्मीर फाइल्स (Movie The Kashmir Files) को सोमवार को अयोध्या (Ayodhya) के संतों ने फैजाबाद शहर के पैराडाइज सिनेमा हॉल में देखी. फिल्म देखने के बाद बीजेपी के फायरब्रांड नेता और पूर्व सांसद डॉ रामविलास दास वेदांती (Dr Ramvilas Das Vedanti) ने कहा कि फिल्म में कश्मीरी पंडितों पर हुए अत्याचार पर हकीकत दिखाई गई है और यह हकीकत भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जानते थे, तभी 5 अगस्त 2019 को धारा 370 और 35A समाप्त कर इसका बदला ले लिया.

डॉ रामविलास दास वेदांती ने कहा कि वह 1985 और 90 के बीच खुद कश्मीर गए थे और उनके साथ अशोक सिंघल और गिरिराज किशोर भी थे. जो फिल्म में दिखाया गया है, उससे भी भयावह हकीकत देख कर लौटे थे. श्यामा प्रसाद मुखर्जी के बलिदान को देश भूल नहीं सकता. आतंकवादियों ने जिस तरह से कश्मीरी पंडितों की हत्या कर उनके परिवार वालों को कश्मीर से निकाला था, इसका बदला प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने धारा 370 हटा कर 2019 में ले लिया था.

कपिल शर्मा शो बैन करने की मांग
अयोध्या के संत वरुण दास ने कहा कि फिल्म में कश्मीर की हकीकत दिखाई गई है. कश्मीरी पंडितों की हत्या कर उनके परिवार वालों को कश्मीर से बाहर निकाला गया था. उन्होंने कहा कि कपिल शर्मा ने इस फिल्म को प्रमोट करने से मना कर दिया था, इसलिए कपिल शर्मा के शो को प्रबंधित करना चाहिए. उन्होंने कहा कि कश्मीर फाइल फिल्म को प्रमोट न कर कपिल शर्मा ने गलत काम किया है, इसलिए उनके शो द कपिल शर्मा शो को बैन कर देना चाहिए. आज लगभग एक दर्जन से अधिक संतों ने कश्मीर फाइल फिल्म देखी और अपनी प्रतिक्रिया दी.

आपके शहर से (अयोध्या)

उत्तर प्रदेश

उत्तर प्रदेश

Tags: Ayodhya, Uttar pradesh news



Source link

more recommended stories