अखिलेश यादव निर्विरोध चुने गए समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष, कहा- चुनाव में हुई जमकर धांधली


हाइलाइट्स

सपा के राष्ट्रीय अधिवेशन में अखिलेश यादव को निर्विरोध अध्यक्ष चुना गया
अखिलेश यादव ने कहा यह महज एक पद नहीं, बल्कि बड़ी जिम्मेदारी है
अखिलेश यादव ने इस दौरान बीजेपी पर जमकर निशाना साधा

लखनऊ. समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अधिवेशन में गुरुवार को अखिलेश यादव निर्विरोध राष्ट्रीय अध्यक्ष निर्वाचित हुए. राजधानी लखनऊ के रमा बाई अम्बेडकर मैदान में आयोजित 11वें राष्ट्रीय सम्मेलन में निर्वाचन अधिकारी प्रो. राम गोपाल यादव ने उनके निर्वाचन की घोषणा की. इस दौरान देश भर से आए  डेलीगेट्स और सपा के सभी प्रदेशों के अध्यक्ष भी मौजूद रहे.

राष्ट्रीय अध्यक्ष निर्वाचित होने के बाद अखिलेश यादव ने कहा कि यह केवल एक पद नहीं है, बल्कि मुझे बहुत बड़ी जिम्मेदारी आप लोगों ने दी है. यह जिम्मेदारी ऐसे समय में दी गई है, जब संविधान को खतरा पैदा कर दिया गया है. जो जिम्मेदारी आपने मुझे दी है, मैं आपको भरोसा दिलाता हूं कि उसपर खरा उतरूंगा. इस जिम्मेदारी को निभाने के लिए अगर दिन-रात काम करना पड़ेगा, तो मैं दिन-रात काम करुंगा. हम समाजवादियों को अगले 5 साल में नया इतिहास बनाने का काम करना होगा.

अखिलेश यादव ने बीजेपी पर जमकर निशाना साधा
इस दौरान अखिलेश यादव ने बीजेपी पर जमकर निशाना साधा. उन्होंने कहा कि सभी संवैधानिक संस्थाओं में भी बीजेपी ने अपने लोगों को बैठा दिया है. काला कृषि कानून लाकर बीजेपी ने जता दिया कि वो किसानों के साथ नहीं है. आंदोलन में सैकड़ों किसानों की जान चली गई और वो शहीद हो गए. बीजेपी ने किसी गरीब का कर्ज माफ नहीं किया है. अगर आप गुजरात में कारखाने लेकर आ रहे हो तो उत्तर प्रदेश और बिहार जैसे गरीब राज्यों में क्यों नहीं? उत्तर प्रदेश के साथ भेदभाव आप क्यों कर रहे हैं? उत्तर प्रदेश  की जनता ने आपकी सरकार बनाई और आप उसी के साथ ही भेदभाव कर रहे हैं.

चुनाव में लगाया धांधली का आरोप
अखिलेश यादव ने पार्टी नेताओं को संबोधित करते हुए कहा कि विधानसभा चुनाव में समाजवादी पार्टी की कैसे हार हुई जनता को खुद भरोसा नहीं है. उत्तर प्रदेश में समाजवादियों की सरकार बन गई थी. पूरी सरकारी मशीनरी ने लगकर आपकी सरकार को छीन लिया. सभी विधानसभा क्षेत्रों में 30,000 से ज्यादा वोट काटे गए. जिससे न्याय की सबसे ज्यादा उम्मीद थी, उसी इलेक्शन कमिशन ने कुछ नहीं सुना. यादव और मुस्लिम बाहुल्य गांव में वोट उड़ा दिए गए. बीजेपी के पन्ना प्रमुख के साथ मिलकर इलेक्शन कमीशन ने मुसलमानों और यादवों के वोट काटे. पन्ना प्रमुखों के साथ मिलकर इलेक्शन कमीशन की मशीनरी का इस्तेमाल हुआ. सभी कार्यकर्ताओं से अपील है “अपना बूथ सबसे मजबूत” करें. बीजेपी के लोग मायावी हैं. यह फिर से झूठ और फरेब फैलाएंगे. कार्यकर्ताओं आपको जमीन नहीं छोड़नी है.

Tags: Akhilesh yadav, Samajwadi party, UP latest news



Source link

more recommended stories