अखिलेश और शिवपाल की चिट्ठी पर रामगोपाल यादव ने साधी चुप्पी, बोले- राष्ट्रीय अध्यक्ष जी से पूछिए सवाल


हाइलाइट्स

अखिलेश की ओर से लिखे गए पत्र पर महासचिव प्रो.रामगोपाल यादव कुछ भी कहने से किया इनकार.
सदस्यता अभियान के तहत लोगों को पार्टी से जोड़ने के लिए कहा.

इटावा. समाजवादी पार्टी मे चल रहे सत्तासंग्राम के बीच शिवपाल यादव को लेकर सपा की लिखी गई चिट्ठी पर पार्टी के प्रमुख महासचिव प्रो.रामगोपाल यादव ने चुप्पी साध ली है. उन्होंने साफ कहा है कि यह चिट्ठी राष्ट्रीय अध्यक्ष जी (अखिलेश यादव) की ओर से लिखी गई है इसलिए उनसे ही इस सिलसिले में बात करें. इटावा मे सिविल लाइन स्थिति पार्टी कार्यालय पर सदस्यता अभियान की प्रगति समीक्षा करने आये प्रो. रामगोपाल यादव पहुंचे थे.

इस दौरान जब शिवपाल सिंह यादव के लिए लिखी गई चिट्ठी पर उनकी प्रतिक्रिया जाननी चाही तो उन्होंने मुस्कराते हुए इसे टाल दिया. उनका कहना था कि यह चिट्ठी अध्यक्ष जी ने लिखी है इसलिए अध्यक्ष जी से बात करें, वही सही से बता पाएंगे. रामगोपाल यादव इस चिट्ठी को लेकर भले ही अनभिज्ञता जता रहे हों लेकिन इस चिट्ठी की एक प्रति रामगोपाल यादव को भी भेजी गई थी. उन्होंने कहा कि जो सवाल उनसे पूछा जा रहा है, वह सवाल राष्ट्रीय अध्यक्ष जी से सवाल पूछा जाना चाहिए कि क्यों पत्र जारी किया गया? शिवपाल यादव ने भी बीते शनिवार को अखिलेश यादव के पत्र के जवाब में सिर्फ ट्वीट किया लेकिन कुछ बोलने से इनकार कर दिया. सपा प्रमुख के पत्र पर नेताओं ने चुप्पी साध रखी है.

खास है सदस्यता अभियान
रामगोपाल यादव सदस्यता अभियान कार्यक्रम के दौरान कार्यकर्ताओं को मजबूत सदस्य जोड़ने का आह्वान किया. दरसअल सदस्यता अभियान का कार्य किस स्तर पहुंचा है इसकी देखरेख करने के लिए वे पहुंचे थे. दस दिन पूर्व ही सपा कार्यालय से रामगोपाल ने सदस्यता अभियान की शुरुआत की थी. उन्होंने कहा कि लोगों के घर-घर जाकर सपा से आम जनता को जोड़ने काम किया जाना चाहिए. उन्होंने कहा कि जो पार्टी के लिए काम करेगा वही समाजवादी पार्टी पदाधिकारी बनेगा.

उन्होंने बताया कि आज 2500 लोगों को सदस्यता दिलाई गई है. इस मौके पर सपा जिलाध्यक्ष गोपाल यादव, महासचिव चन्दन सिंह, शहर अध्यक्ष वसीम चौधरी, भर्थना विधायक राघवेंद्र गौतम, सपा नेता वीरू भदौरिया, उदयभान सिंह यादव, पूर्व चौयरमेन फुरकान अहमद, मुबारक अंजुम, आदि मौजूद रहे.

Tags: Akhilesh yadav, Etawah news, Samajwadi party, Shivpal Yadav



Source link

more recommended stories