Agnipath Scheme: पुलिस की मुस्‍तैदी से टला बवाल, कई युवक हिरासत में, रामादेवी पुलिस चौकी को फूंकने की थी योजना


कानपुर. केंद्र सरकार की ‘अग्निपथ’ योजना के विरोध में यूपी के कानपुर में भी माहौल बिगाड़ने की कोशिश थी, लेकिन पुलिस की सतर्कता ने ऐसा होने नहीं दिया. डीसीपी (पूर्वी) प्रमोद कुमार के नेतृत्‍व में क्राइम ब्रांच और चकेरी पुलिस ने व्हाट्सएप पर आपत्तिजनक चैटिंग कर माहौल को बिगाड़ने की साजिश करने वाले सात युवकों को हिरासत में लिया है.

व्हाट्सएप चैट के मुताबिक, ‘अग्निपथ’ योजना के विरोध की आड़ में कानपुर की रामादेवी पुलिस चौकी को फूंकने की प्‍लानिंग थी, लेकिन पुलिस ने समय रहते युवकों को हिरासत में ले लिया. इस वक्‍त पुलिस योजना बनाने वाले सभी आरोपियों को हिरासत में लेकर पूछताछ कर रही है. पुलिस के मुताबिक, इस व्हाट्सएप ग्रुप का नाम बायकॉट TOD यानी टूर ऑफ ड्यूटी था. इसके अलावा व्हाट्सएप चैट में सिर्फ चौकी फूंकने की ही बात नहीं लिखी गई है बल्कि हाईवे जाम करने की भी बातचीत है. इस ग्रुप में कई लोगों बीच चैट हो रही थी.

कानपुर के संयुक्त पुलिस आयुक्त ने कही ये बात
अग्निपथ योजना के विरोध में प्रदर्शन से संबंधित वायरल व्हाट्सएप चैट को लेकर कानपुर के संयुक्त पुलिस आयुक्त आनंद प्रकाश तिवारी ने कहा कि शहर में इस तरह के व्हाट्सएप ग्रुप से जुड़े जितने भी लड़के हैं उनकी पहचान कर ली है. सभी छात्रों से अपील है कि वे इस तरह के किसी भी कार्य में शामिल न हों. हम जांच करके ऐसे लोग जो इस तरह की गैरकानूनी गतिविधियों की योजना बना रहे हैं, हम कानून के तहत कार्रवाई करेंगे.

प्रदर्शनकारियों ने अलीगढ़ में एक पुलिस चौकी फूंकी
यूपी के एडीजी कानून-व्यवस्था प्रशांत कुमार के मुताबिक, सशस्त्र बलों में भर्ती की केन्द्र की नयी ‘अग्निपथ’ योजना के खिलाफ युवाओं के प्रदर्शन ने शुक्रवार को उत्तर प्रदेश में हिंसक रूप ले लिया. इस दौरान न सिर्फ बलिया में प्रदर्शनकारियों ने एक ट्रेन के खाली डिब्बे को आग के हवाले कर दिया बल्कि अलीगढ़ में एक पुलिस चौकी फूंक दी गयी. उन्‍होंने बताया कि अलीगढ़ के टप्पल क्षेत्र में कुछ नौजवानों के एक समूह ने अलीगढ़-पलवल राज्यमार्ग पर स्थित जट्टारी पुलिस चौकी में आग लगा दी. इसके अलावा उन्होंने पुलिस के एक वाहन को भी आग के हवाले कर दिया. वहीं, प्रदर्शनकारियों ने अलीगढ़ और टप्पल के बीच फंसे कुछ निजी वाहनों पर पथराव भी किया. हिंसक प्रदर्शन के दौरान खैर के पुलिस क्षेत्राधिकारी इंदु सिद्धार्थ घायल भी हो गये.

Tags: Agniveer, Kanpur Police, Kanpur violence



Source link

more recommended stories