आगरा: रेप का झूठा केस करना पड़ा महंगा, 1 महिला और 3 वकील गिरफ्तार, जानें क्या थी वजह?


आगरा: उत्तर प्रदेश के आगरा में पैसे वसूली के लिए फेक रेप केस दर्ज करवाना एक महिला और तीन वकीलों को इतना महंगा पड़ गया कि अब उन्हें जेल की हवा खानी पड़ेगी. आगरा पुलिस ने एक व्यक्ति के खिलाफ फर्जी बलात्कार का मामला दर्ज कर रंगदारी वसूलने के आरोप में तीन वकीलों और एक महिला को गिरफ्तार किया है. पुलिस की मानें तो जांच में पाया गया कि यह मामला बलात्कार का नहीं, बल्कि रंगदारी का है.

आगरा के एसपी विकास कुमार ने कहा कि मामला 26 जून को दर्ज किया गया था. इस मामले की जांच के दौरान हमें सबूत मिले कि यह बलात्कार का मामला नहीं बल्कि रंगदारी का मामला है. उन्होंने आगे कहा कि दोनों पक्षों के वकील (पीड़ित और आरोपी) आरोपी से जबरन वसूली में शामिल पाए गए. फर्जी केस दर्ज कर जबरन वसूली करने का मामला दर्ज कर महिला शिकायतकर्ता और तीन वकीलों को 3.75 लाख रुपये नकद के साथ गिरफ्तार किया गया है.

पुलिस ने आगे बताया कि पूछताछ के दौरान सह आरोपी के तौर पर एक महिला वकील समेत दो अन्य वकीलों के नाम भी सामने आए हैं. उनकी तलाश की जा रही है. हम मामले की आगे जांच कर रहे हैं. बता दें कि यह मामला हरि पर्वत पुलिस थाने का है, जहां 26 जून को महिला ने खुद को रेप पीड़ित बताते हुए राहुल कुमार नाम के शख्स के खिलाफ मामला दर्ज करवाया था.

महिला ने आरोप लगाया था कि उसे नशीला पदार्थ दिया गया और फिर राहुल ने उसके साथ फोटो क्लिक किया और वीडियो बनाए. बाद में राहुल और उसके परिवार वालों ने उसे धमकी भी दी. हालांकि, जांच के बाद कहानी कुछ और ही निकली. पुलिस ने जब इस मामले की पड़ताल की तो महिला का आरोप झूठा निकला और पूछताछ के बाद तीन वकील समेत उसे भी गिरफ्तार कर लिया गया.

Tags: Agra news, Crime News, Uttar pradesh news



Source link

more recommended stories