2 महीने पहले सऊदी अरब मे की थी आत्महत्या, अब शव आ रहा है भारत, जानें क्या है पूरा मामला


बरेली. रोजगार की तलाश में सात समुंदर पार गए युवक ने फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली. उसकी मौत के बाद भारत सरकार की मदद से दो महीने बाद युवक का शव बरेली पहुंच रहा है. लोगों ने सरकार की इस पहल की तारीफ की है, तो वहीं इकलौते बेटे की मौत से परिवार में कोहराम मचा हुआ है. बूढ़ी मां का रो-रो कर बुरा हाल है.

बरेली के शहर कोतवाली थाना क्षेत्र के सराय खाम मोहल्ले निवासी मीना का अब इस दुनिया में कोई नहीं है. पति की मौत तो कई साल पहले हो चुकी है, ऐसे में उनके बुढ़ापे का सहारा उनका इकलौता बेटा मोहम्मद शाहबाज ही था. वह भी अब इस दुनिया में नहीं रहा. 24 वर्षीय मोहम्मद शाहबाज दिसंबर 2021 में सऊदी अरब रोजगार की तलाश में गया था. बरेली के कुछ लोगों ने उसे वहां काम पर भेजा था.

नौकरी के बहाने बुलाकर सऊदी अरब में कराई जा रही थी मजदूरी
बताया जाता है उसे जो काम बताकर मोहम्मद शाहबाज को सऊदी अरब भेजा गया था वो काम नहीं करवाया गया, बल्कि उससे वहां मजदूरी करवाई जा रही थी. जिससे आहत होकर उसने 25 मार्च को सऊदी अरब में ही फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली. 25 मार्च को सऊदी अरब में आत्महत्या के बाद उसके शव को हॉस्पिटल में ही सुरक्षित रखवा दिया गया.

भारत सरकार की मदद से भारत आ रहा है शव
मृतक की मां का कहना है की उन्होंने भारत सरकार से सऊदी अरब से बेटे का शव अपने वतन लाने की गुहार लगाई, जिसके बाद भारत सरकार की मदद से दो महीने बाद उसका शव मंगलवार रात तक दिल्ली पहुंच जाएगा. जिसके बाद परिवार वाले उसका शव सड़क मार्ग से लेकर बरेली आयेंगे और सुबह तड़के उसके शव का सुपुर्दे खाक किया जाएगा.

Tags: Bareilly news, Saudi arabia, UP news



Source link

more recommended stories